प्रशासन के सितारे: वसंत रामचन्द्र धनावडे

नाम: वसंत रामचन्द्र धनावडे

पद : ब्लाक एक्सटेंशन ऑफिसर, सतारा, महाराष्ट्र

1)आप अभी किस विभाग में और किस पद पे काम कर रहे हैं? आपका मुख्य कार्य क्या हैं

मैं पंचायत समिति के ग्राम पंचायत विभाग में एक्स्टेंशन अधिकारी के रूप में कार्य कर रहा हूँ | इस से पहले मैं ग्राम सेवक के रूप में कार्य कर चूका हूँ  | वर्ष 1993 से 1999 तक मैं ग्राम सेवक के रूप में काम किया है | इस के बाद 1999 से 2004 तक मैने ग्राम विकास अधिकारी के रूप में काम किया उस के बाद 2004 से अब तक एक्स्टेंशन अधिकारी के रूप में काम कर रहे है | सब से पहले मुझे सतारा जिले के पाटन ब्लॉक में मुझे ग्राम सेवक के रूप में काम करने का अवसर मिला तब से मैं इस विभाग में काम कर रहा हूँ  |

इस पद को संभाल ते समय कई प्रकार के कार्य करने होते है इस में से कुछ मुख्य कार्य इस प्रकार है | हर महीने में अपने बिट (क्षेत्र ) में 10 ग्राम पंचायत का अनुश्रवण करना, ग्राम पंचायत के उद्दिष्ट के अनुसार टैक्स वसूल करने के लिए पथक तैयार  करना जरुरत हो तो उस में शामिल होकर टैक्स को जमा करना, ग्राम सेवक से जिला ग्राम विकास निधि के लिए 0.25% राशी जिला परिषद के खाते में भरना, ग्राम पंचयत में 5% खर्च शासन निर्णय के अनुसार करके लेना, GPDP को तैयार करके लेना और ऊपर के अधिकारी तक पहुंचाना , 10% महिला बाल कल्याण खर्च को देखना, काम के अहवाल तयार करना, आपने स्तर पर योजना के कार्यान्वयन से संबंधित व्यय सहित सभी गतिविधियों की निगरानी और पर्यवेक्षण करना। ग्राम पंचायत क्षेत्रों में योजना के कार्यान्वयन के लिए ग्राम सेवक को मार्गदर्शन प्रदान करना। मीटिंग, ट्रेनिंग करना, विभाग के अंतर्गत दी जानेवाली सेवाएँ लाभार्थी तक सही से पहुंचाना साथ ही इन सभी का अनुश्रवण, मॉनिटर करना, इस के साथ ही नरेगा के काम का नियंत्रण करना, SBM&PMAY, 14 वित्त आयोग इन सभी योजना को लोगो तक अच्छे से नियंत्रण करना | इस के साथ हर एक स्तर जैसे पंचायत समिति, जिला परिषद् इन सभी के मीटिंग को उपस्थित रहना इस प्रकार के कई सारे काम करने होते है |   

 

2) अभी तक के सफर में सरकार से जुड़के काम करने का अनुभव कैसा रहा है ?               

अभी तक के सफर में सरकार के साथ काम करने का अनुभव अच्छा ही रहा हैकाफी कुछ हमने देखा और सीखा | हमने पाटन में काम करने के लिए शुरू किया, सतारा का बहुत ही हिली एरिया है, इस एरिया में काम करना बहुत मुश्किल है, यहाँ इतनी बारिश होती है की कुछ गाँव पूरे के पूरे बंद रहते है | हमने आपत्तिग्रस्त जगह में भी काम किया है | संत गाडगेबाबा ग्राम स्वच्छता अभियान अभी तक राज्य और विभाग स्तर पर प्रथम क्रमांक लेनेवाली सबसे जादा ग्राम पंचायत सतारा जिले की है | निर्मल ग्राम पुरस्कार में देश में सबसे जादा 1437 ग्राम पंचायत को सन्मानित किया गया है | इस के साथ ही 2016-17 में क्वालिटी कोंसिल ऑफ़ इंडिया ने पुरे देश में 75 जिले का सर्वे किया उस में सतारा जिला देश में तीसरे स्थान पर थाहमें दिए गए अधिकार और जिमेदारी के अनुसार हम जमीनी स्तर तक सेवा देने में सक्षम हो रहे है |हिली एरिया में काम करना बहुत ही मुश्किल था लेकिन हमने उन सभी कामो को हमने पूरा करके दिखाया इस के लिए हमारे उच्च अधिकारी से भी काफी अच्छा सहयोग मिला इस के साथ हमारे बाकि ग्राउंड के सभी सहकारी का बहुत अच्छे से सहयोग मिला है | उस के बाद हमारा प्रमोशन होता गया आज हम तालुका  पंचायत समिती में विस्तार अधिकारी के रूप में काम कर रहे है | शुरू से लेकर अभी तक काफी अधिकारी से मिले है उनके हर एक के काम करने की कला को बहुत ही नजदीकी से देखा है |  

3) करियर में अभी तक की क्या बड़ी सफलताएं रहीं हैं? एक या दो के बारे में बताईये?       

अभी तक के मेरे करियर में काफी सारे काम हो गए है उस में से दो कामो के बारे में हम आपको बताते है | इन दो कामो के कारण हमारे ब्लॉक की और जिले की पुरे राज्य में और देश में चर्चा हो गई है |

पहले काम को देखते है इस में यह मैं बताना चाहूँगा की हम कई सारी योजना का कार्यान्वयन करते है | प्रधानमंत्री आवास योजना इस को हमने बहुत ही अच्छे से समय के साथ कार्यान्वयन किया है।  इस का एक उदाहरण मैं देना चाहूँगा | वित्तीय वर्ष 2017-18 में हमें PMAY-G के लिए मकान मिले थे उस में से हमने कमल नारायण गायकवाड” इस लाभार्थी का व कुल घर पूरे राज्य में सब से कम दिनों में तैयार करके दिखाया था | इस मकान को हमने केवल 40 दिन में पूरा किया था | राज्य का पहला मकान बनाने का श्रय हमें सतारा जिले को मिला था जिस के लिए जिला के सीईओ और ब्लॉक के BDO से इस को प्रमाण पत्र और सम्मान चिन्ह दे कर नवाजा है |

दूसरी बात जो हम करने जा रहे है वह है स्वच्छता को लेकर हमारे सीनियर अधिकारीयों से जो हमारे सामने ODF का लक्ष्य रखा थावह हमने समय सीमा के अंदर पूरा करके दिखाया है | हमने हमारा ब्लॉक के साथ पूरा जिला भी दिसंबर 2016 में ODF कर दिया है | इस के बाद केंद्र सरकार ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में पूरे देश में से 718 जिले का स्वच्छता सर्वेक्षण किया, जिस मे सतारा जिले के 16 गाँव का सर्वे हुआ, उसमें  हमारे बिट के गाँव में कमिटी ने आकर सभी चीजे को देखा था जैसे स्कूल, आंगनवाडी,हेल्थ सेंटर,सब सेंटर,धार्मिक स्थल, शौचालय की उपलब्धता,सार्वजनिक जगह की स्वच्छता।और  इसी प्रकार सतारा के जो 16 गाँव दिए थे सभी सर्वे होने के बाद, हमें दिल्ली से पता चला की पूरे देश में स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में सतारा नंबर 1 पर आया  है | इस के लिए दिली में सत्कार समरोह के लिए हमारे जिले के सीईओ को बुलाया गया  दिल्ली में पुरस्कृत किया गया | हम सभी ने जो एकता के साथ नीचे जो काम किया था उस का इतना बड़ा असर दिख रहा था | यह दो चीज़ें हमारे लिए बहुत ही बड़ी है |     

4)इन सफलताओं के रास्ते में क्या कुछ अनोखी मुश्किलें या परिस्तिथियाँ सामने आयी ? इनका समाधान कैसे हुआ ? क्या आप अपने अनुभव से इसके उदाहरण दे सकते हैं?                               

इस कामो में हमें बड़ी कोई समस्या देखने को नहीं मिली हैकुछ छोटीछोटी समस्या थी जो हमारे सामने थी जैसे की प्रधानमंत्री आवास योजना में मकान बनवाने के लिए जगह की कमी ,इस चीज़ को  फाइनल  करना एक बड़ी समस्या होती थी | इस के साथ कुछ लाभार्थी के मकान समय सीमा के अंदर पूरा न हो पाना, हिली एरिया में  मटेरियल मिलने या लाने के लिए परेशानी होती थी। 

दूसरी बात अगर हम ODF की करते है तो इसमें शौचालय बनाने के लिए लोगो के मन में परिवर्तन लाना, जगह की कमी इस के साथ ही पैसे की कमी भी दिखाई दे रही थी | लेकिन इन सभी समस्या को दूर किया और काम करके दिखाया | इस के लिए हमने हर गाँव में आंगनवाडी कार्यकर्त्ता, आशा, टीचर हमरे पंचायत की सभी कमिटी से सदस्य, हम खुद ग्राम सेवक हम सभी ने लाभार्थी के घरघर जाकर उनके सोच को बदला और उनको घरों में शौचालय बनवा के लिया | कम से कम जगह में शौचालय किस तरह हो सकता है उस को देखा | पैसे की समस्या को भी दूर किया हमने जिस दुकान से सामान लेते थे उनको उधारी पर देने के लिए बोला, जैसे ही लाभार्थी को पैसा मिला वैसे ही वह आदमी उस दुकानदार को दिया करता था |

5)बेहतर शासन और सेवा वितरण में आप अपना योगदान किस प्रकार देखते हैं?          

बेहतर शासन और सेवा वितरण को मैं इस प्रकार देखता हूँ  कि, अभी काफी कुछ चीज़ें अच्छी हो रही है।  हम जब पाटन ब्लॉक में काम करते थे तो हमने काफी चीज़ों कोदेखा है हमने इस हालत में काम किया है की इस ब्लॉक में बहुत बारिश होती है तो हम गाँव में व्हिजिट के लिए पैदल जाया करते थे कीचड़ के कारण गाड़ी नहीं जाती थी तो हम पैदल जाकर सेवा प्रदान करने का काम किया कई बार पंचायत का भवन नहीं था तो हम मंदिर में रहकर काम करते थे लेकिन लाभार्थी को सेवा देते थे | अभी उस की तुलना में काफी बदलाव हो गये है पहले लाभार्थी को चेक से पैसा जाता था अब सीधा उस के खाते में पैसा जा रहा है अलगअलग प्रणाली का उपयोग हो रहा है इस कारण एक बेहतर शासन और अच्छे से सेवा वितरण हो रहा है

6) अपने काम के किस पहलू से आपको ख़ुशी मिलती है?                                     

फिल्ड में जाकर जो सभी योजना चल रही है उनके क्रियान्वयन और अनुश्रवण को लेकर ख़ुशी होती है हमारे सभी ग्राम सेवक फिल्ड में काफी अच्छा काम कर रहे है उस को देख कर इस के साथ ही हमारे वरिष्ठ अधिकारी के मार्गदर्शन के अनुसार सभी लाभार्थी को योजना की सेवा प्रदान करना बहुत अच्छा लगता है | हमें फिल्ड में जाकर काम करना उस का अनुश्रवण करना अच्छा लगता है |

7) i) अच्छे अधिकारी के 3 ज़रूरी गुण                                                              

अच्छा दूर दृष्टीकोण, कार्य तत्परता और इच्छा शक्ति, कुशल प्रशासक, नेतुत्व का गुण

ii) काम से सम्बंधित वह ज़िम्मेदारी जिसमे सबसे ज़्यादा मज़ा आता हो

फिल्ड व्हिजिट और कामो का अनुश्रवण करना इस के साथ ही सीनियर अधिकारी से दी गई जिमेदारी को अच्छे से संभालना और सभी काम समय सीमा के अंदर पूरा करना | 

iii) अपने क्षेत्र में कोई ऐसा काम जो आप करना चाहते हो मगर संरचनात्मक या संसाधन की सीमाएँ आपको रोक देती हैं?

 हमें जो भी मीटिंग के लिए या ऊपर अधिकारी को जो भी जानकारी फार्मेट में भरकर देनी होती है, इसके साथ जो भी काम नीचे स्तर में  हो रहा है उस को ऑनलाइन करने के लिए थोड़ा समय सीमा अधिक होनी चाहिए।  इस के साथ ही काम को और गति देने के लिए सभी को लैपटॉप होनी चाहिए।