कोर्स को जानिए

हम और हमारी सरकार के पाठ्यक्रम के पीछे क्या विचार है?

सरकार आम तौर पर समाज के लोगों की बेहतरी के लिए अलग-अलग योजनायें बनाती है। परन्तु जब हमें सेवाओं का लाभ समय पर बेहतर तरीके से नहीं मिल पाता है, तब हम सरकार को भ्रष्ट कहकर अपना अंतिम निर्णय सुना देते हैं। यदि भ्रष्टाचार को छोड़ दें तो इसके अलावा क्या हमने कभी सरकार के अंदर झाँकने कि कोशिश की है कि क्यों ऐसा है कि शिक्षा में अच्छी गुणवत्ता नहीं है, क्यों पैसा समय पर लाभार्थी को नहीं मिल पाता, आखिर स्वास्थ्य सेवाएं क्यों बेहतर नहीं हो पा रहीं हैं? इन्हीं तरह के कई सवालों को और गहराई से और बहतर समझने का अवसर यह कोर्स- ‘हम और हमारी सरकार’ हमारे प्रतिभागियों को देता है। हम चाहते हैं की हमारे प्रतिभागी सरकार को बहुत करीब से समझें, जिससे वे सरकार के साथ और ज्यादा बेहतर तरीके से काम कर सकें।

इस कोर्स के लक्षित प्रतिभागी हर क्षेत्र जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता, रोज़गार आदि में कार्य कर रहीं सामाजिक संस्थाओं के ज़मीनी स्तर के कार्यकर्त्ता, युवा और पंचायत प्रतिनिधि एवं पंचायत अधिकारी हैं।

यह कोर्स हिंदी में करवाया जाता है।

इस कोर्स का महत्व क्या है?

हमारे प्रतिभागी पहले से ही बेहतर सेवा वितरण के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में काम कर रहीं संस्थाओं में अपनी सेवाएं दे रहें हैं और किसी न किसी रूप में सरकार के साथ जुड़े हैं। ये क्षेत्र कोई भी हो सकते हैं चाहे वह शिक्षा हो, स्वास्थ्य हो, कृषि हो या फिर अन्य कोई क्षेत्र। हमारे पैसा कोर्स का उदेश्य यही है कि एक बेहतर सेवा वितरण प्रणाली की व्यवस्था हो। इसलिए आवश्यक है कि हमारे प्रतिभागी पहले सरकार की प्रशासनिक एवं वित्तीय व्यवस्था के साथ उसमें काम कर रहे लोगों को भी नजदीकी से समझें। जब हमारे प्रतिभागी सरकार की इस व्यवस्था को अच्छे ढंग से समझ पाएंगे और जान पायेंगे कि वास्तव में समस्याएं कहाँ-कहाँ पर हैं, तभी वे सरकार के साथ जुड़कर ज्यादा बेहतर तरीके से काम कर पायेंगे।

इस कोर्स की विशेषता यही है कि यह कोर्स शुरुआत से अंत तक प्रतिभागियों को ज़मीनी हक़ीकत से अवगत करवाता है और उनके खुद के अनुभवों को बुनते हुए उनकी सरकारी कामकाज पर पकड़ को और मजबूत बनाता है। इस पैसा कोर्स को मुख्य रूप से तीन मोड्यूल में बांटा है:

  • मोड्यूल 1 - सरकार कौन है?
  • मोड्यूल 2 - सरकार कैसे चलती है?
    • प्रशासनिक व्यवस्था
    • सार्वजनिक वित्त
    • सेवा वितरण पर प्रभाव
  • मोड्यूल 3- सरकार और जनता का रिश्ता क्या है?

इस कोर्स के प्रतिभागी क्या सीखेंगे?

विकेन्द्रीकरण

विकेन्द्रीकरण

 विकेंद्रीकरण क्या है और साथ ही भारत में विकेंद्रीकरण की आवश्यकता और ज़मीनी हकीकत क्या है

सरकारी प्रशासन

सरकारी प्रशासन

 सरकारी प्रशासन क्या है, उसमें काम कर रहे नौकरशाह कौन हैं, और नौकरशाहों के काम करने के तरीके से सेवा वितरण पर क्या प्रभाव पड़ता है।

सार्वजनिक वित्त

सार्वजनिक वित्त

सामाजिक क्षेत्र की योजनाओं के निधि प्रवाह के साथ इस बात की समझ कि क्यों पैसा ज़मीनी स्तर पर समय पर नहीं पहुँच पाता और इससे सेवा वितरण पर क्या प्रभाव पड़ता है।

सामाजिक जवाबदेही

सामाजिक जवाबदेही

 बेहतर सेवा वितरण के लिए सरकार की जवाबदेही क्या है और नागरिक सरकार से यह जवाबदेही कैसे माँग सकते हैं

यह कोर्स किसके लिए है और इसमें कौन शामिल हो सकता है ?

यह कोर्स ज़मीनी स्तर पर काम कर रही अलग अलग क्षेत्रों की संस्थाओं के लिए खोला गया है। कोर्स के प्रतिभागी खासतौर से अलग-अलग सामाजिक क्षेत्रों जैसे शिक्षा,स्वास्थ्य आदि में काम कर रहे कार्यकर्ता और विकास से सम्बंधित विषय में रुची रखने वाले युवा और छात्र हैं।

हम यह कोर्स पहले बिहार में प्रथम संस्था, राजस्थान में नेहरू युवा केंद्र संगठन के वालंटियर्स और हिमाचल प्रदेश में पंचायत सचिवों जैसे संगठन और संस्थाओं के साथ करा चुके हैं।

यदि आप अपनी संस्था में यह कोर्स करवाना चाहें तो humaari.sarkaar@accountabilityindia.org पर संपर्क करें।

हम और हमारी सरकार के अगले कोर्स का आयोजन जल्द होगा। और जानकारी के लिए यह वेबसाइट देखते रहें।